Credit Card

Credit Card Tips: क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने के 14 बेस्ट तरीके, पैसा बचने के साथ होंगे और कई फायदे

Credit Card ka Use Kaise Kare: आज के समय में क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने वाले लोग लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल अगर आप समझदारी से करते हैं तो यह आपके लिए फायदेमंद हो साबित हो सकता हैं। लेकिन अगर आप इसे बिना सोचे समझे इस्तेमाल करते हैं। तो यह कार्ड आपको कर्ज में भी डूबा सकता हैं।

क्रेडिट कार्ड को लेकर बैंक और वित्तीय कंपनियों के कुछ नियम होते हैं जिन्हे आपको फॉलो करना होता हैं। अगर आपके पास क्रेडिट कार्ड है या फिर आप क्रेडिट बनवाने का प्लान बना रहे हैं तो आप आपको पता होना चाहिए। कि क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैसे करें। ( Credit Card ka Use Kaise Kare ) ताकि आपको क्रेडिट कार्ड का गलत नुकसान न हो।

credit card ka use kaise kare by digitcoin

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैसे करें। Credit Card ka Use Kaise Kare

1. धोखाधड़ी से सुरक्षा

क्रेडिट कार्ड भी डेबिट कार्ड की तरह एक कार्ड होता हैं। क्रेडिट कार्ड के जरिए आपके साथ भी फ्रॉड हो सकता हैं। इसलिए आपको अपने क्रेडिट कार्ड की सुरक्षा का भी ध्यान रखना होगा। वरना हैकर आपके कार्ड की जानकारी चुराकर इसका गलत इस्तेमाल कर सकते हैं। जिसके कारण आपको बड़ा नुकसान भी हो सकता हैं।

कार्ड की सुरक्षा के लिए हमेशा टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन का इस्तेमाल करें। जिसमें हर लेनदेन के लिए आपके फोन या ईमेल पर एक ओटीपी आता है।

अगर आपका कार्ड हैक हो जाता हैं या फिर खो जाता हैं तो कार्ड को तुरंत ब्लॉक करवाए।
साथ ही, राष्ट्रीय हेल्पलाइन 1930 पर इसकी रिपोर्ट करें।

2. ट्रांजैक्शन की लिमिट तय करें

अगर आप क्रेडिट का सही इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको अपने कार्ड में ट्रांजैक्शन की लिमिट तय करनी चाहिए। ताकि आप अपने खर्चों को कंट्रोल कर सको।

ऑनलाइन खरीदारी के लिए भी एक लिमिट निर्धारित करना जरूरी है, भले ही इसके लिए ओटीपी की जरूरत पड़ती हो। क्रेडिट कार्ड से विदेश में लेनदेन के लिए सावधानी बरतें क्योंकि इसमें ओटीपी की जरूरत नहीं होती और इससे जोखिम बढ़ जाता है।

अगर आप विदेश यात्रा नहीं कर रहे हैं या विदेशी लेनदेन नहीं कर रहे हैं, तो अपने कार्ड पर इंटरनेशनल ट्रांजैक्शन को बंद कर दें। जरूरत पड़ने पर इसे फिर से चालू किया जा सकता है।

3. एक से अधिक कार्ड का इस्तेमाल करें

अगर आपके पास एक से अधिक क्रेडिट कार्ड हैं तो इससे को ज्यादा सुविधा मिलती हैं। अगर आपके एक कार्ड में कोई समस्या हैं , तो दूसरे कार्ड का उपयोग कर सकते हैं।

इसके अलावा, आप बड़े खर्चे को दो या तीन कार्ड में बांट सकते हैं, ताकि एक ही कार्ड की लिमिट क्रॉस न हो।

इससे आपको एक लंबी ब्याज-मुक्त क्रेडिट अवधि भी मिलती है। आपको अपने खर्चों को समझदारी से बांटकर, अपने बिलों का भुगतान आसानी से करने का मौका मिलता है।

4. बिल पेमेंट के लिए ऑटो-पे का इस्तेमाल करें

क्रेडिट कार्ड के बिल का समय पर भुगतान करने के लिए आप ऑटो-पे की सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आप लेट फीस या ऊँचे ब्याज दरों के दंड से बच सकते हैं।

वरना अगर आप गलती से भी कार्ड का बिल पे करना भूल जाते हैं तो आपको 24% से 46% तक का ब्याज चुकाना पड़ सकता हैं।

ऑटो-पे से हर महीने आपके क्रेडिट कार्ड का बिल समय पर खुद ही जमा हो जाता हैं। आपको इसे याद रखने की जरूरत नहीं होती हैं। इससे आपका क्रेडिट स्कोर भी अच्छा रहता है।

5. कैश निकालने के लिए सिर्फ डेबिट कार्ड

अगर आपको केश की जरूरत हैं तो क्रेडिट कार्ड से केश निकालने से बचे केश निकालने के लिए डेबिट कार्ड का ही इस्तेमाल करें। क्रेडिट कार्ड से केश निकालने के लिए कम्पनीय बहुत ज्यादा ब्याज चार्ज करती हैं।

6. अपने जरूरत के अनुसार कार्ड का चुनाव करें।

आपको क्रेडिट का इस्तेमाल कि उदेश से करना फिर उसी हिसाब से क्रेडिट कार्ड बनवाए। बैक और वित्तीय कंपनियां लोगों की जरूरत के हिसाब से क्रेडिट कार्ड बनाते हैं। ह
इसलिए, ध्यान दें कि आपके लिए कौन सा कार्ड ज्यादा फायदेमंद रहेगा। आपका क्रेडिट कार्ड आपके खर्च करने की आदतों से मेल खाना चाहिए।

7. क्रेडिट स्कोर को सुधारें।

अगर आप अपना क्रेडिट स्कोर बेहतर बनाना चाहते हैं तो अपके क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल लिमिट से कम ही करें।

आपका क्रेडिट स्कोर इस पर निर्भर करता हैं कि आप अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कितना करते हैं।

उदाहरण के लिए, अगर आपके क्रेडिट कार्ड की कुल लिमिट तीन लाख रुपये हैं , और आपने कार्ड के जरिए केवल 30 हजार रुपये का ही इस्तेमाल किया हैं। तो आपकाआपका क्रेडिट उपयोग अनुपात 10% होगा।

अगर आप 1 लाख रुपये तक का इस्तेमाल करते हैं, तो यह अनुपात बढ़कर 33% हो जाएगा।

स्वस्थ क्रेडिट उपयोग अनुपात 30% से कम होना चाहिए, जबकि सबसे अच्छा अनुपात 10% से कम होता है।

8. कैशबैक और रिवॉर्ड

क्रेडिट कार्ड कंपनियां अपने ज्यादा से ज्यादा यूजर बढ़ाने के लिए क्रेडिट का इस्तेमाल करके पर अपने यूजर को रिवार्ड और पॉइंट्स का लालच देती हैं।

जैसे कि अगर आपके पास ट्रेवल क्रेडिट कार्ड हैं तो आपको कम्पनीय फ्लाइट या होटल बुक करने पर केश बैक या रिवर्ड पॉइंट्स प्रदान कर सकती है।

अगर आप इन ऑफर्स का ठीक से इस्तेमाल करते हैं, तो ये आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

इसी प्रकार बहुत सी शॉपिंग साइट ऐसी भी होती हैं। जो क्रेडिट कार्ड के जरिए शॉपिंग करने पर कैशबैक या ऑफर प्रदान करती हैं।

जैसे कि अमेजन पे आईसीआईसीआई क्रेडिट कार्ड जो आपको अमेजन पर खर्च पर 5% कैशबैक देता है। इस कैशबैक को आप बाद में अमेजन पर खरीदारी करने में इस्तेमाल कर सकते हैं।

9. लगातार अपने बिल की जांच करें

आपने अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सही तरीके से कर भी रहे हैं या नहीं इसकी जांच करने के लिए आपको अपने क्रेडिट कार्ड के बिल की नियमित रूप से जांच करनी चाहिए।

बिल में आपको कार्ड के वार्षिक शुल्क, छूट, रिवॉर्ड पॉइंट्स जैसी चीजों की जानकारी मिलती है। बिल पर ध्यान देने पर अगर आपको लगता हैं कि आप अपना कार्ड का इस्तेमाल फालतू चीजों को खरीदने के लिए कर रहे हैं तो आप उसे कम कर सकते हैं।

10. कार्ड के सभी नियम वे शर्तों को ध्यान से पढ़ें।

अगर आप क्रेडिट कार्ड बनवाने जा रहे हैं तो आपको क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान दोनों के बारें में पता होना चाहिए।

अक्सर क्रेडिट कार्ड बनाने वाले बैंक और कंपनियां कार्ड के फायदे तो लोगों को बता देते हैं लेकिन कार्ड के क्या नुकसान भी हो सकते हैं। इसके बारें में किसी को नहीं बताते हैं। इसलिए कार्ड को लेने से पहले कार्ड के सभी नियम व शर्तों को ध्यान से पढ़ें।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

11. बकाया राशि का समय से भुगतान करें

अगर आप अपने क्रेडिट स्कोर बेहतर रखना चाहते है फिर उसे सुधारना चाहते हैं तो आपके कार्ड के बकाया बिल को समय पर जमा करें। अगर आपका बिल समय पर पे नहीं होगा तो आपको पेनाल्टी लग सकती है और आपका सिबिल स्कोर भी प्रभावित हो सकता है।

समय पर भुगतान करने से न सिर्फ आप ब्याज देने से बचेंगे बल्कि आपकी क्रेडिट स्कोर भी सही रहेगा। जिससे आपको भविष्य में किसी प्रकार का फाइनेंशियल लोन लेने में परेशानी नहीं होगी।

12. EMI ट्रांजैक्शन विकल्प का इस्तेमाल करें।

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल आप ईएमआई ट्रांजैक्शन में बदलने में कर सकते हैं। क्रेडिट कार्ड से किए गए खर्च को ईएमआई में बदलने पर आपको 3 से 36 महीने में वापस चुकाना होता है, इस सुविधा में प्रोसेसिंग शुल्क, सेवा कर और अन्य चार्ज भी लग सकते हैं।

इसके अलावा आपको ईएमआई पर ब्याज भी चुकाना पड़ता हैं। इसमें आपको ब्याज पर कोई छूट भी नहीं मिलती हैं। इसलिए इन विकल्पों का इस्तेमाल सोच-समझकर करें।

13. इमरजेंसी में पर्सनल लोन का विकल्प चुनें

बहुत से बैंक या वित्तीय कंपनियां अपने क्रेडिट कार्ड यूजर्स को उनकी अप्रयुक्त क्रेडिट सीमा का उपयोग करके पर्सनल लोन लेने की सुविधा का विकल्प भी प्रदान करते हैं।

इसमें आमतौर पर ब्याज दरें कम होती हैं। यह विकल्प उन लोगों के लिए सही हैं जिन्हे इमरजेंसी में पैसों की जरूरत होती हैं।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

15. को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड बनवाएं।

को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड वह होते हैं जो किसी खास कंपनी के साथ मिलकर जारी किए जाते हैं। यदि आप अक्सर सुपरमार्केट में खरीदारी करते हैं, हवाई यात्रा करते हैं, या पेट्रोल पंप पर ईंधन भराने जाते हैं, तो ऐसे कार्ड आपके लिए लाभदायक होते हैं।

इस प्रकार के कार्ड के इस्तेमाल से आप पॉइंट्स इकट्ठा कर सकते हैं, और बाद में इन पॉइंट्स का के जररिए आप को-ब्रांडेड पार्टनर के साथ बिल पेमेंट या अन्य खरीदारियों में कर सकते हैं। इससे आपको खर्च के बदले अतिरिक्त लाभ मिलता है।

यहाँ पर हमने आपको बताया हैं कि क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैसे करें। ( Credit Card ka Use Kaise Kare ) अगर इस जानकारी को लेकर आपका किसी भी प्रकार का कोई सवाल हैं तो आप कमेन्ट करके पूछ सकते हैं। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेन्ट करके बताएं।

Digitcoin

Share Market, Cryptocurrency, Mutual Fund, Money Management, Finance इत्यादि के बारें में जानकारी प्राप्त करने क लिए हमारी वेबसाइट www.digitcoin.in पर जरूर विजिट करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button