Loan

गोल्ड लोन क्या है? गोल्ड लोन कैसे लें। Gold Loan Kaise Milta Hai

Gold Loan Kaise Milta Hai : बैंक और वित्तीय कंपनियां विभिन्न प्रकार के लोन प्रदान करती हैं, जैसे कि होम लोन, बिज़नेस लोन, कार लोन, मोबाइल लोन, पर्सनल लोन आदि। इनमें से एक प्रकार का लोन है गोल्ड लोन, जो ग्राहकों के सोने के बदले दिया जाता है।

इस तरह के लोन का विज्ञापन अक्सर टीवी और मोबाइल पर देखा जा सकता है, जहां विभिन्न ऑफरों के माध्यम से लोगों को इसकी ओर आकर्षित किया जाता है।

अगर आपको भी पैसों की जरूरत हैं। आप लोन लेने की सोच रहे हैं ,आपके पास घर में गोल्ड हैं। तो आप गोल्ड लोन भी ले सकते हैं। अगर आप गोल्ड लोन के बारें में नहीं जानते हैं तो इस जानकारी को पूरा पढ़ें। इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं कि गोल्ड लोन क्या हैं। Gold Loan Kya Hota Hai , गोल्ड लोन कैसे लें। Gold Loan Kaise Milta Hai

भारत में, अधिकतर लोगों के पास कुछ मात्रा में सोना होता है, क्योंकि यहां के लोग निवेश से ज्यादा बचत पर ध्यान देते हैं। इसलिए, वे अपनी बचत को विभिन्न सेविंग स्कीमों और फिक्स्ड डिपॉजिट्स में निवेश करते हैं। दूसरी ओर, जोखिम भरे निवेश विकल्पों जैसे शेयर बाजार और म्यूचुअल फंड्स में निवेश करने वाले लोग कम होते हैं।

गोल्ड लोन क्या होता है Gold Loan Kya Hota Hai

गोल्ड लोन एक प्रकार का सुरक्षित लोन है जिसमें आप अपने सोने को बैंक या वित्तीय संस्थान में गिरवी रखकर पैसे उधार ले सकते हैं। इस प्रक्रिया में, आपका सोना लोन के बदले जमानत के रूप में काम करता है। लोन चुकाने के बाद, आप अपना सोना वापस प्राप्त कर सकते हैं।

यदि आपको तत्काल पैसे की जरूरत है और आप जल्दी में कोई लोन लेना चाहते हैं, तो गोल्ड लोन एक अच्छा विकल्प हो सकता है। यह लोन अन्य प्रकार के लोन की तुलना में आसानी से और जल्दी मिल सकता है, क्योंकि इसमें सोने को जमानत के रूप में रखा जाता है।

आप अपने सोने को बेचकर भी पैसे प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन अगर आपका सोना खानदानी है और आप इसे अपने पास रखना चाहते हैं, तो गोल्ड लोन एक बेहतर विकल्प हो सकता है। इससे आपको जरूरत के अनुसार पैसे मिल जाएंगे और आपका सोना भी सुरक्षित रहेगा। लोन चुकाने के बाद आप अपना सोना वापस प्राप्त कर सकते हैं।

गोल्ड लोन के कुछ महत्वपूर्ण फायदे क्या हैं ?

गोल्ड लोन दूसरे लोन के मुकाबले आपको बहुत जल्दी मिल जाता है। गोल्ड लोन देने वाली कुछ कंपनियां तो मिनटों में ही लोन देने का दावा करती है।

गोल्ड लोन लेने के लिए आपको बहुत ज्यादा दस्तावेज़ जमा करने की भी ज़रुरत नहीं पड़ती है।

गोल्ड लोन की ब्याज दर भी पर्सनल लोन के मुकाबले काफी कम होती है।

गोल्ड लोन लेने के लिए आपका सिबिल स्कोर कोई मायने नहीं रखता है। अगर आपका सिबिल स्कोर ख़राब है तो भी आप गोल्ड लोन ले सकते है।

गोल्ड लोन के माध्यम से मिली धनराशि को आप पर्सनल लोन की तरह ही खर्च कर सकते है।
गोल्ड लोन लेने के लिए आपको कई बार इन कम प्रूड की जरूरत नहीं पड़ती है कि आप जॉब करते हो या बिज़नेस , आपको लोन मिल सकता है। बस आपके पास गोल्ड होना चाहिए।

दूसरे लोन की तुलना में गोल्ड लोन की प्रोसेसिंग फीस बहुत कम होती है , कुछ मामलों में यह शून्य भी होती है। जबकि पर्सनल लोन, होम लोन और ऑटो लोन की प्रोसेसिंग फीस ज्यादा होती है।

अगर आप गोल्ड लोन को तय समय से पहले पैसे चुका देते हैं, तो आपको किसी प्रकार का कोई अतिरिक्त शुल्क जमा नहीं करना पड़ता है।

परन्तु यदि आप पर्सनल लोन को तय समय से पहले चुकाना चाहे तो फिर भी आपको बैंक बकाया राशि का 4% तक चुकाना पड़ता है जबकि गोल्ड लोन में ऐसा नहीं होता है।

गोल्ड लोन लेने के बाद आपको गोल्ड लोन देने वाली कंपनियों के पास सुरक्षित रहता है। आपके गोल्ड को एक सुरक्षित तिजोरी में रखा जाता है ,जहां पर यह 24 X 7 समय सुरक्षा की निगरानी में रहता है।

गोल्ड लोन देने वाली कंपनियां गोल्ड का बीमा भी करवाती है ताकि लूट या चोरी के मामले में इसकी क्षतिपूर्ति की जा सके। इसलिए बैंक या किसी भी गोल्ड लोन देने वाली कंपनियों के पास रखे गोल्ड के बारे में परेशान होने की जरूरत नहीं है। यह आपके घर की तुलना में काफी सुरक्षित रहता है

गोल्ड लोन लेते समय आपको आय प्रमाण देने की जरूरत नहीं होती है। लेकिन अगर आप बैंक से होम लोन, कार या टू व्हीलर लोन लेते हैं, तो आपको आय प्रमाण दिखाना आवश्यक है तभी आप लोन ले पाएंगे।

गोल्ड लोन आपकी धन संबंधी जरूरतों को पूरा करने में मदद करता है। चाहे आप किसी बिजनेस की शुरुआत करने के लिए लोन लेना चाहते हो , या घर में किसी की शादी करना चाहते हो ,या इमरजेंसी में मेडिकल संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए आप गोल्ड लोन की मदद ले सकते है । आज के समय में गोल्ड की क़ीमतें भी आसमान छू रही है।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

गोल्ड लोन के समय आपको किन किन बातो का ध्यान रखना चाहिए

जब भी गोल्ड लोन लेने के बारे में सोचा जाता है तो ये बात सामने आती है कि हम गोल्ड लोन कहाँ से ले ताकि हमें ज्यादा से ज्यादा फायदा हो इस बात का भी काफी ध्यान रखा जाता है की हमारा गोल्ड कहा पर ज्यादा सुरक्षित है। ऐसी स्थिति में हम अपने लिए सबसे फायदेमंद गोल्ड लोन कहां से लें, इसके लिए किन किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

  • विभिन्न बैंक और NBFC गोल्ड लोन के लिए अलग-अलग अवधि प्रदान करते हैं, जो आमतौर पर 3 महीने से लेकर 3 साल तक होती है। अपनी भुगतान क्षमता के अनुसार सही अवधि चुनें।
  • अधिकतम लोन राशि सोने के मूल्य और ऋणदाता की नीतियों पर निर्भर करती है। आप आमतौर पर अपने सोने के मूल्य का 75% से 90% तक लोन के रूप में प्राप्त कर सकते हैं।
  • गोल्ड लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज में पहचान पत्र, पते का प्रमाण, पैन कार्ड, और सोने की खरीद का बिल शामिल हो सकते हैं। यदि आप बड़ी राशि का लोन ले रहे हैं, तो अधिक दस्तावेजों की जरूरत पड़ सकती है।
  • चूंकि गोल्ड लोन एक सिक्योर्ड लोन है, इसलिए इसमें आपका क्रेडिट स्कोर आमतौर पर महत्वपूर्ण नहीं होता है।
  • लोन का भुगतान विभिन्न तरीकों से किया जा सकता है, जैसे कि EMI, बुलेट रीपेमेंट या लोन अवधि के अंत में एकमुश्त भुगतान।
  • यदि आप समय पर लोन नहीं चुकाते हैं, तो लोन देने वाली संस्था को आपके सोने को बेचने का अधिकार है। यदि सोने की कीमत गिरती है, तो वे अतिरिक्त सोना गिरवी रखने के लिए भी कह सकते हैं।

गोल्ड लोन लेने के लिए नियम व शर्तें।

  1. गोल्ड लोन लेने के लिए, आपको अपना सोना किसी नजदीकी और विश्वसनीय शाखा पर ले जाना चाहिए जहां इसकी शुद्धता, वजन और गुणवत्ता की परख की जाएगी। यदि ज्वैलरी में स्टोन्स लगे हों, तो उनकी गणना में शामिल किए जाने या नहीं, इसका निर्णय भी वहीं किया जाता है।
  2. बैंक या वित्तीय संस्थान आपके गोल्ड के आधार पर लोन की राशि निर्धारित करेंगे। इसमें वर्तमान में चल रही सरकारी दर को भी ध्यान में रखा जाएगा।
  3. आपको अपनी पहचान और पते के प्रमाण के लिए आधार कार्ड, पासपोर्ट, और पासपोर्ट साइज फोटो आदि दस्तावेज़ जमा करने होंगे।
  4. आपको एक ऐसी योजना चुननी चाहिए जो आपकी वित्तीय आवश्यकताओं और भुगतान की क्षमता के अनुरूप हो।
  5. आपको गोल्ड लोन के लिए दी जाने वाली ब्याज दरों और शर्तों की तुलना करनी चाहिए।
  6. गोल्ड लोन लेने से पहले विभिन्न बैंकों और वित्तीय संस्थानों की तुलना करें और सही जानकारी प्राप्त करें।
  7. यह सुनिश्चित करें कि आपका गोल्ड एक सुरक्षित और विश्वसनीय संस्थान में जमा हो।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

गोल्ड लोन और पर्सनल लोन में अंतर

गोल्ड लोन और पर्सनल लोन दोनों अपनी विशिष्ट परिस्थितियों में उपयोगी हो सकते हैं। यहाँ इन दोनों के बीच के मुख्य अंतर और प्रत्येक की विशेषताओं को समझाया गया है:

#1 प्रोसेसिंग का समय:

पर्सनल लोन: पर्सनल लोन के लिए आपको अपनी पे स्लिप, आईटीआर फॉर्म्स और अन्य डॉक्यूमेंट्स प्रस्तुत करने पड़ सकते हैं। इसका प्रोसेसिंग समय 2 से 7 दिन तक हो सकता है।

गोल्ड लोन: गोल्ड लोन प्रोसेसिंग का समय आमतौर पर कम होता है, क्योंकि इसमें केवल आपके सोने का मूल्यांकन किया जाता है।

#2 लोन की राशि:

पर्सनल लोन: आपको 50 हजार से 20 लाख रुपए तक का कर्ज मिल सकता है, जो आपकी आय और क्रेडिट हिस्ट्री पर निर्भर करता है।

गोल्ड लोन: गोल्ड लोन की राशि आपके सोने के मूल्यांकन पर निर्भर करती है, और आरबीआई के अनुसार, आप सोने के मूल्य का केवल 75% तक ही लोन के रूप में प्राप्त कर सकते हैं।

#3 रीपेमेंट की क्षमता:

गोल्ड लोन: यह एक सुरक्षित कर्ज है, जो आपके सोने के मूल्यांकन पर आधारित होता है।

पर्सनल लोन: इसमें आपकी आय और क्रेडिट हिस्ट्री का महत्वपूर्ण रोल होता है।

#4 ब्याज दर:

पर्सनल लोन: इसकी ब्याज दर आमतौर पर 8.45% से 26% के बीच होती है।

गोल्ड लोन: गोल्ड लोन की ब्याज दर आमतौर पर कम होती है और यह अवधि और ऋणदाता पर निर्भर करती है।

#4 कर्ज का समय:

पर्सनल लोन: इसकी अवधि 1 से 5 साल तक हो सकती है।

गोल्ड लोन: इसकी अवधि 7 दिन से लेकर 3 या 5 साल तक हो सकती है।

#6 रीपेमेंट विकल्प:

पर्सनल लोन: इसमें ईएमआई के जरिए रीपेमेंट किया जाता है।

गोल्ड लोन: इसमें ईएमआई के अलावा अन्य विकल्प भी उपलब्ध होते हैं, जैसे कि केवल ब्याज का भुगतान और मूलधन का भुगतान अंत में करना।

#7 प्रोसेसिंग फीस:

पर्सनल लोन: इसकी प्रोसेसिंग फीस आमतौर पर कुल लोन राशि का 3% होती है।

गोल्ड लोन: यह कम होती है, 0.10% से 2% के बीच।

इन अंतरों को देखते हुए, अगर आपको छोटी अवधि के लिए कम राशि की आवश्यकता है और आपके पास पर्याप्त सोना है, तो गोल्ड लोन बेहतर विकल्प हो सकता है। वहीं, अगर आप बड़ी राशि का लोन चाहते हैं और लंबी अवधि के लिए चुकाना चाहते हैं, तो पर्सनल लोन उपयुक्त हो सकता है।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

गोल्ड लोन कब ले सकते हैं।

गोल्ड लोन को विभिन्न परिस्थितियों में लिया जा सकता है, खासकर जब तत्काल वित्तीय सहायता की आवश्यकता हो। यहां कुछ ऐसे परिस्थितियां हैं जहां गोल्ड लोन लेना उपयुक्त हो सकता है:

गंभीर बीमारी की स्थिति में: यदि परिवार के किसी सदस्य को गंभीर बीमारी हो जाती है और उसके इलाज के लिए अचानक बड़ी राशि की जरूरत पड़ती है, तो गोल्ड लोन इस खर्च को पूरा करने के लिए एक विकल्प हो सकता है।

शादी के खर्च के लिए: शादियों में होने वाले बड़े खर्च के लिए भी गोल्ड लोन एक व्यावहारिक समाधान हो सकता है। इससे उधार लेने की जगह पर आप अपने घर में रखे सोने का उपयोग कर सकते हैं।

हायर एजुकेशन के लिए: अगर एजुकेशन लोन किसी कारण से नहीं मिल पा रहा है, तो गोल्ड लोन हायर एजुकेशन के लिए जरूरी वित्तीय सहायता प्रदान कर सकता है।

गोल्ड लोन लेने का निर्णय लेते समय यह भी महत्वपूर्ण है कि आप ऋण की शर्तों, ब्याज दरों और ऋण चुकाने की योजना को अच्छी तरह समझें ताकि आपकी वित्तीय स्थिति पर इसका नकारात्मक प्रभाव न पड़े। इसके अलावा, यह भी याद रखें कि गोल्ड लोन का प्रयोग उन्हीं स्थितियों में करना चाहिए जब अन्य वित्तीय विकल्पों से सहायता प्राप्त करना संभव न हो।

आप गोल्ड लोन कैसे ले सकते हैं Gold Loan Kaise Milta Hai

अगर आप गोल्ड लोन लेना चाहते हैं तो आप इन कुछ प्रकिरयाओ को फॉलो करके अपना लोन ले सकते हैं।

  1. आपके पास खुद का गोल्ड होना चाहिए।
  2. आप गोल्ड लोन लेने के लिए जिस भी गोल्ड लोन देने वाले बैंक या वित्तीय कंपनी के पास जाओगे वे आपके गोल्ड की जांच करेंगे।
  3. गोल्ड की जांच करने के बाद वे गोल्ड के मार्केट रेट के हिसाब से गोल्ड की कीमत वैल्यू तय करते हैं।
  4. उसके बाद आपको फोरम फिल करके कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट जमा करने होते हैं। जैसे की आधार कार्ड (Aadhaar Card) और पैन कार्ड (PAN Card) इत्यादि।
  5. उसके बाद आप इस फार्म को जमा कर दें।
  6. आपका लोन अप्रूव हो जाएगा और पैसे आपके अकाउंट में आ जाएगा.

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

गोल्ड लोन देने वाली कंपनियां& बैंक

आपकी जानकारी सही है कि कई गोल्ड लोन कंपनियां और बैंक लोगों को घर में रखे सोने पर लोन प्रदान करते हैं। यह प्रक्रिया अकसर इस प्रकार काम करती है:

  • Federal Bank – 8.50 फीसदी
  • SBI Gold Loan – 7.30 फीसदी
  • Punjab & Sind Bank – 7 फीसदी
  • Bank of Maharashtra – 7.10 फीसदी
  • PNB – 8.75 फीसदी
  • Canara Bank – 7.35 फीसदी
  • Indian Bank – 7 फीसदी
  • BoB – 9 फीसदी
  • BOI – 8.40 फीसदी
  • Karnataka Bank – 8.49 फीसदी
  • IDBI Bank – 7 फीसदी
  • HDFC Bank – 11 फीसदी

नोट : ध्यान रखें ये ब्याज की कीमत समय के साथ कम या ज्यादा भी हो सकती हैं। ये सदा फिक्स नहीं होती हैं।

निष्कर्ष – Gold Loan Kaise Milta Hai

यहाँ पर हमने आपको गोल्ड लोन के बारें में विस्तार से जानकारी दी हैं। की गोल्ड लोन क्या हैं। Gold Loan Kya Hota Hai , गोल्ड लोन कैसे लें। Gold Loan Kaise Milta Hai अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई हैं तो आप अपनी राय हमें कमेन्ट बॉक्स में जरूर बताएं।

इस जानकारी को उन लोगों के साथ भी जरूर शेयर करें। जो गोल्ड लोन के बारें में जानकारी इसका लाभ लेना चाहते हैं। गोल्ड लोन को लेकर अगर आपका किसी भी प्रकार का कोई सवाल हैं तो आप अपनी राय हमें कमेन्ट बॉक्स में जरूर बता सकते हैं।

Digitcoin

Share Market, Cryptocurrency, Mutual Fund, Money Management, Finance इत्यादि के बारें में जानकारी प्राप्त करने क लिए हमारी वेबसाइट www.digitcoin.in पर जरूर विजिट करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button